कार्य-प्रगति : कालानुक्रम

21 सितम्बर, 2019

दिल्ली में डॉ. विश्वनाथ पांडेय (वाराणसी), डॉ. राकेश सिंह (मुंबई), श्री हरिशंकर सिंह, डॉ. वेदप्रकाश सिंह, डॉ. विजय कुमार तिवारी, श्री अनिमेष सक्सेना, आदि की उपस्थिति में वाङ्मय खण्ड 16 (पूना-समझौता) की बैठक

28 अगस्त, 2019

दिल्ली में वाङ्मय खण्ड 10 (एक कलाकार और एक कवि; आत्मकल्याण, नारी-कल्याण, बाल-कल्याण और उनके उत्थान, अस्पृश्यता, नारी-शिक्षा, मंत्र-दीक्षा और घर वापसी) की बैठक । श्री कृष्णकांत पाराशर, श्रीमती विद्योत्तमा मिश्रा, श्रीमती मीना सोढ़ी

25 अगस्त, 2019

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के वेद विभाग में वाङ्मय खण्ड 3 की बैठक ।

11 अगस्त, 2019

वाङ्मय खण्ड 14 की बैठक ।

25 जुलाई, 2019

वाङ्मय खण्ड 5 की बैठक. श्री हरिशंकर सिंह, प्रो. दीनबंधु पाण्डेय, प्रो. राणा पी.बी सिंह, डॉ. ज्ञानेंद्र नारायण राय एवं श्री कुमार गुंजन अग्रवाल ।

22 जून, 2019

वाङ्मय की सामग्री-संकलन, प्रकाशन और धन संग्रह के निमित्त दिल्ली में माननीय डॉ. कृष्ण गोपाल जी की अध्यक्षता में सम्पादक मण्डल की दूसरी बैठक। प्रो. दीनबन्धु पाण्डेय जी ने पावरप्वांइट के माध्यम से विषय की सविस्तार विवेचना की। डॉ. कृष्ण गोपाल जी ने वाङ्मय के कार्य के लिए समय-सीमा निर्धारित करने का आह्वान किया। आगामी अक्टूबर, 2019 में सम्पादक-मण्डल की तीसरी बैठक निश्चित की गई, जिसमें सम्पादक-मण्डल के सभी सदस्य अपने-अपने खण्ड की प्रगति-रिपोर्ट, पावरप्वांइट के माध्यम से, प्रस्तुत करेंगे। प्रत्येक खण्ड में सम्पादक मण्डल के अतिरिक्त एक ‘मॉनीटर’ (परिवीक्षक) भी रखा गया।

19 जून, 2019

नयी सरकार के गठन पर संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार को 1.25 करोड़ रुपये अनुदान का संशोधित प्रस्ताव भेजा गया।

15 जून, 2019

लखनऊ में उत्तरप्रदेश वाङ्मय समिति की बैठक

25-26 मई, 2019

काशी हिंदू विश्वविद्यालय, मालवीय मूल्य अनुशीलन समिति आदि में विद्यमान सामग्री के सन्दर्भ में काशी हिंदू विश्वविद्यालय में वाङ्मय की बैठक

11 मई, 2019

श्री प्रभुनारायण जी की उपस्थिति में वाङ्मय की लखनऊ इकाई की बैठक तथा प्रदेश समिति का गठन। यह समिति उत्तरप्रदेश के विभिन्न जनपदों में वाङ्मय की सामग्री और धन-संग्रह का कार्य करेगी।

08 मई, 2019

दिल्ली में माननीय डॉ. कृष्ण गोपाल जी अध्यक्षता में वाङ्मय सम्पादक मण्डल की पहली बैठक।

17 मार्च, 2019

दिल्ली में मिशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री प्रभुनारायण जी की अध्यक्षता में 33 सदस्यों की उपस्थिति में सम्पादक मण्डल का गठन

1 नवम्बर, 2018

संस्कृति मंत्रालय, भारत सरकार को 3.67 करोड़ रुपये अनुदान का प्रस्ताव।

27 अक्टूबर, 2018

मालवीय मिशन की सभी शाखाओं से धन-संग्रह की अपील

29 सितंबर 2018

मिशन की सभी शाखाओं से भागीदारी के लिए अनुरोध।

23 सितंबर, 2018

दिल्ली में श्री के.एन. गोविन्दाचार्य की उपस्थिति में वाङ्मय केंद्रीय संचालन समिति की बैठक, जिसमें वाङ्मय के कार्य के लिए सम्पादक मण्डल के गठन पर चर्चा तथा संस्कृति मंत्रालय को अनुदान के लिए प्रस्ताव भेजने का निर्णय।

17 सितंबर, 2018

केंद्रीय वाङ्मय समिति की बैठक। सरकार से आर्थिक सहायता लेने-सम्बन्धी प्रस्ताव पर चर्चा हुई।

20 जुलाई, 2018

दिल्ली में माननीय डॉ. कृष्ण गोपाल जी की अध्यक्षता तथा श्री के.एन. गोविन्दाचार्य की उपस्थिति में वाङ्मय की पहली औपचारिक बैठक, जिसमें वाङ्मय के विषय में चर्चा और आनेवाले कार्य के लिए धन-संग्रह का आह्वान

13 मई, 2018

महामना मालवीय मिशन ने लखनऊ में आयोजित केंद्रीय कार्यकारी समिति की बैठक में वाङ्मय के कार्य का संकल्प और प्रस्ताव रखा। केंद्रीय कार्यकारी समिति से स्वीकृति मिली।